ब्लोटिंग की समस्या से हैं परेशांन – अपनाएं छुटकारा पाने के आसान उपाय

पेट फूलना कभी-कभी किसी के साथ भी हो सकता है. ये परेशान करने वाली चीज़ है जिससे कभी पब्लिक जगह पर भी  महसूस हो सकती है पेट फूलना एक आम समस्या है, लेकिन इसे नजरअंदाज नहीं करना चाहिए। ऊपर बताए गए आसान घरेलू उपायों और जीवनशैली में बदलावों को अपनाकर आप पेट फूलने की समस्या से काफी हद तक राहत पा सकते हैं। अगर आपको कोई गंभीर समस्या है, तो डॉक्टर से सलाह जरूर लें। आज हम आपको बताएंगे कि आप अपने खानपान और दिनचर्या में कुछ आसान से बदलाव करके पेट फूलने की समस्या से कैसे निजात पा सकते हैं। आइये जानते हैं विस्तार से-

खानपान में बदलाव

1. छोटे-छोटे भोजन करें: एक बार में बहुत खा लेने से पेट फूल सकता है।  इसकी बजाय, दिन भर में थोड़ी-थोड़ी मात्रा में बार-बार खाना ज्यादा फायदेमंद होता है। इससे आपका पेट भरा रहता है और गैस बनने की संभावना कम हो जाती है।

2. धीरे-धीरे खाएं और चबाएं: जल्दी-जल्दी खाने से हवा अंदर चली जाती है, जिससे पेट फूल सकता है। इसलिए अपने भोजन को आराम से खाएं और हर निवाले को अच्छी तरह चबाएं।

3. गैस बढ़ाने वाले खाद्य पदार्थों से बचें: कुछ चीजें, जैसे राजमा, गोभी और ब्रोकली, गैस बढ़ाने वाली होती हैं। अगर आपको पता है कि आप किन चीजों से फूलते हैं, तो उन्हें खाने से परहेज करें।

4. पानी पीते रहें: पर्याप्त मात्रा में पानी पीना आपके शरीर को हाइड्रेट रखता है और पेट फूलने को कम करता है। आप चाहें तो पानी के साथ सब्जियों का सूप या छाछ भी ले सकते हैं।

5. नमक कम खाएं: ज्यादा नमक खाने से शरीर में पानी जमा हो सकता है, जिससे पेट फूल सकता है। इसलिए अपने खाने में नमक कम इस्तेमाल करें।

6. स्नैक्स में सब्जियां और फल खाएं: भूख लगने पर चिप्स या कुकीज की बजाय कच्ची सब्जियां जैसे खीरा, गाजर या फिर फल खाएं। इनमें कैलोरी कम होती है और फाइबर ज्यादा होता है, जो पेट को भरा रखता है और आपको कम खाने की जरूरत पड़ेगी।

7. प्रोबायोटिक्स लें: प्रोबायोटिक्स वे बैक्टीरिया होते हैं जो आपकी आंतों के स्वास्थ्य को बेहतर बनाते हैं। आप डॉक्टर से सलाह करके प्रोबायोटिक दही या कैप्सूल ले सकते हैं. ये पेट फूलना कम करने में मदद करते हैं।

जीवनशैली में बदलाव

1. व्यायाम करें: व्यायाम करने से आपका पाचन तंत्र मजबूत होता है और पेट फूलना कम हो जाता है। रोजाना कम से कम 30 मिनट हल्का व्यायाम, जैसे तेज चलना या योग करना, जरूर करें।

2. तनाव कम करें: तनाव भी पेट फूलने का कारण बन सकता है।  इसलिए योग, ध्यान या गहरी सांस लेने जैसी चीजें करके तनाव को कम करने की कोशिश करें।

3. धूप में समय बिताएं: विटामिन D की कमी से भी पेट फूल सकता है।  इसलिए सुबह की धूप में 15 मिनट जरूर बैठें।

4. पर्याप्त नींद लें: पूरी नींद न लेने से शरीर तनाव का हार्मोन ज्यादा बनाता है, जिससे पेट फूल सकता है। इसलिए रात को कम से कम 7-8 घंटे की नींद जरूर लें।

अगर ये उपाय अपनाने के बाद भी आपको परेशानी हो रही है, तो डॉक्टर से जरूर संपर्क करें।  वो आपको दवाइयां देकर इस समस्या को जड़ से खत्म करने में मदद कर सकते हैं।

अतिरिक्त टिप्स:

अपनी आंतों की सेहत का ख्याल रखें: पेट फूलना इस बात का संकेत हो सकता है कि आपकी आंतों में असंतुलन है।  इसलिए अपनी आंतों के बैक्टीरिया को स्वस्थ रखने के लिए प्रोबायोटिक्स और प्रीबायोटिक्स से भरपूर खाद्य पदार्थों का सेवन करें। प्रोबायोटिक्स वाले खाद्य पदार्थों में दही, केफिर, अचार और कुछ फलियां शामिल हैं। प्रीबायोटिक्स फाइबर युक्त खाद्य पदार्थों, जैसे फल, सब्जियां और साबुत अनाजों में पाए जाते हैं। ये आंतों में अच्छे बैक्टीरिया को पनपने में मदद करते हैं, जो पाचन क्रिया को दुरुस्त रखते हैं।

खाने के बाद पुदीना का सेवन करें: पुदीना प्राकृतिक रूप से गैस को कम करने में मदद करता है। आप खाने के बाद मुंह में एक या दो पुदीने की पत्तियां चबा सकते हैं या गर्म पानी में पुदीने की पत्तियां डालकर चाय बनाकर पी सकते हैं।

अदरक का सेवन करें: अदरक पाचन क्रिया को तेज करता है और गैस को कम करता है। आप सुबह गर्म पानी में अदरक डालकर सेवन कर सकते हैं या फिर अपनी सब्जियों में अदरक का तड़का लगा सकते हैं।

अजवाइन का सेवन करें: अजवाइन एक ऐसा मसाला है जो पाचन में सहायक होता है। आप खाने के बाद थोड़ी सी अजवाइन चबा सकते हैं या फिर गुनगुने पानी के साथ इसका सेवन कर सकते हैं।

सहनशीलता बढ़ाएं: धीरे-धीरे उन खाद्य पदार्थों को दोबारा अपने आहार में शामिल करें जिनके बारे में आपको लगता है कि वे गैस पैदा करते हैं। हर बार थोड़ी मात्रा में ही खाएं और देखें कि आपका शरीर कैसा रिएक्ट करता है। इससे आपकी सहनशीलता धीरे-धीरे बढ़ेगी और पेट फूलने की समस्या कम होगी।

डॉक्टर को कब दिखाएं:

अगर आपने उपरोक्त घरेलू उपाय अपना लिए हैं और फिर भी आपको पेट फूलने की समस्या बनी रहती है, तो डॉक्टर से जरूर संपर्क करें। डॉक्टर आपके पेट फूलने के कारण का पता लगाकर उचित इलाज कर सकते हैं।  खासकर अगर आपको ये लक्षण भी महसूस हो रहे हैं:

  • तेज पेट दर्द
  • लगातार पेट फूलना
  • मल त्याग करने में परेशानी
  • वजन घटना

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *